Click to Download this video!

आज लंड घुसा है


desi porn stories

मेरा नाम रोहित है और मैं जयपुर में रहता हूं। मेरे पिताजी एक सरकारी कर्मचारी हैं। इसलिए मेरे पिताजी का ट्रांसफर होता ही रहता है। वह इससे पहले गुजरात में थे और हम लोग भी उनके साथ गुजरात में ही थे। पर अब मेरे पिताजी का ट्रांसफर हो चुका है इसलिए हम लोग अब जयपुर में ही आ चुके हैं। हम लोग राजस्थान के रहने वाले हैं इसलिए हम अपने गांव भी यहां से चले जाया करते हैं। मेरे एक बड़े भैया भी हैं जो सरकारी विभाग में ही लग चुके हैं और वह भी जयपुर में ही रहते हैं। हम लोग अपने पिताजी के साथ बहुत सारी जगह पर रहे है और हमने अलग-अलग स्कूलों में पढ़ाई की है। जिस वजह से हमारे बहुत ही दोस्त बने और उसके बाद वह हमें कभी नहीं मिले। मैं भी अपने काम में ही बिजी था और मैं सिर्फ अपने काम में ही ध्यान दिया करता था। मेरे पास भी अब समय नहीं होता था। हम लोग सरकारी घर में ही रहते थे। मेरे पिताजी भी कुछ समय बाद रिटायर होने वाले थे। क्योंकि उनका रिटायरमेंट का समय भी नजदीक था। वह इसी वर्ष रिटायर होने वाले थे। अब उनका प्रमोशन भी हो चुका था।

एक दिन मैं अपने घर से काम के लिए निकल रहा था। इतने में मुझे किसी ने पीछे से आवाज दी और मैंने जब पीछे पलट कर देखा तो मैं उस व्यक्ति को पहचान नहीं पाया। वह भी मेरी उम्र का लड़का ही था लेकिन मुझे समझ नहीं आ रहा था कि वह कौन है। जब वह मेरे पास आया तो वह मुझसे हाथ मिलाने लगा। मैंने भी उससे हाथ मिलाया और पूछा कि आप कौन हैं। वह मुझे कहने लगा कि मेरा नाम सोहन है और हम लोग साथ में ही पढ़ा करते थे। फिर मुझे याद आया कि हम लोग स्कूल में साथ में साथ ही पढ़ा करते थे लेकिन अब वह बहुत पुरानी बात हो चुकी थी। मैंने सोहन से कहा कि तुमने मुझे इतने वर्षों बाद भी पहचान लिया। वह कहने लगा कि तुम अभी भी बिल्कुल नही बदले तुम्हारा शरीर ही सिर्फ बढ़ा हुआ है। तुम्हारी शक्ल सूरत पहले जैसे ही है। मैंने उसे कहा हां यह तो सही बात है। मैं पहले जैसा ही दिखता हूं। सोहन मुझसे मिलकर बहुत ही खुश था और मैंने उसे पूछा कि तुम यहां पर क्या कर रहे हो। वो कहने लगा कि मेरे पापा का ट्रांसफर भी जयपुर में ही हो चुका है। इसलिए हम लोग भी अब यहीं पर रहने लगे हैं। मैंने उसे कहा यह तो बहुत ही अच्छी बात है। की तुम्हारे पापा का ट्रांसफर यहां पर हो चुका है। क्योंकि उसके पापा मेरे पिताजी के साथ ही काम करते थे। वो दोनों एक ही डिपार्टमेंट में है इसलिए सोहन के पिताजी मेरे पापा को भी अच्छे से जानते हैं और मुझे जहां तक याद है उसके घर पर उसकी बहन भी थी। मैंने जब सोहन से इस बारे में बात किया तो वो कहने लगा कि हां मेरी बहन भी है। मैंने उसे कहा वह बहुत बड़ी हो चुकी होगी।

वह कहने लगा हां उसकी उम्र 21 वर्ष की हो चुकी है। क्योंकि जब हम लोग स्कूल में पढ़ा करते थे तब वह बहुत ही ज्यादा छोटी थी। मैंने सोहन से उसका नंबर ले लिया और कहा कि मैं तुम्हें फोन करूंगा, उसके बाद तुमसे मुलाकात करता हूं। अब मैं अपने काम पर निकल गया और मैंने एक दिन सोहन को फोन कर लिया और पूछा कि तुम कहां हो। वो कहने लगा मैं घर पर ही हूं। तुम घर पर ही आ जाओ। मैं जब उसके घर पर गया तो मैंने उसकी बहन को देखा। वह बहुत ही ज्यादा बड़ी हो चुकी थी और पहले से काफी सुंदर लग रही थी। मुझे उसे देख कर बहुत अच्छा लगा। जब मैं उनके घर पर बैठा हुआ था तो उसको भी मुझसे मिलकर बहुत खुश हुई और कहने लगी तुम्हारे माता-पिता से मिलने मुझे तुम्हारे घर आना था, पर मुझे समय नहीं मिल पाया इसलिए मैं तुम्हारे घर नहीं आ पाई। मेरा ध्यान सिर्फ उसकी बहन की तरफ था। सोहन ने मुझे अपनी बहन से मिलाया। उसका नाम राधिका है। मैं उससे मिलकर बहुत ही खुश हुआ। मैं जब राधिका से मिला तो मैं उसे कहने लगा तुम उस वक्त बहुत ज्यादा छोटी थी। जब हम लोग स्कूल में पढ़ा करते थे। वह कहने लगी हां उस वक्त मैं बहुत ही छोटी थी। पर मैंने उसे कहा कि तुम अब बहुत बड़ी हो चुकी हो। अब हम लोग काफी देर तक बातें कर रहे थे। मैने सोहन से कहा कि मैं अब अपने घर चलता हूं। तुम भी मेरे घर पर आना। अब वह लोग भी मेरे घर पर आ जाया करते और सोहन की मां भी हमारे घर पर आने लगी। उनके साथ में राधिका भी हमारे घर पर आ जाया करती। जब भी वह मुझे मिलती तो मैं उससे अक्सर बात कर लिया करता था। राधिका से मेरी बहुत ही बात होने लगी और वह मुझे बहुत अच्छी भी लगती थी। वह जब मेरे घर आती तो मुझसे काफी बात किया करती थी और मैं भी जब उनके घर पर जाता तो मैं राधिका से बहुत बात किया करता था।

राधिका एक दिन हमारे घर पर आ गई और वह मेरी मां से बात कर रही थी लेकिन मेरी मां थोड़ी देर बाद कुछ काम से बाजार चली गई। वह मेरे पास बैठ गई जब वह मेरे पास बैठी हुई थी तो मैं उसे बात कर रहा था। लेकिन मेरी नजर उसके स्तनों पर पड रही थी और मैं उसके स्तनों को देखे जा रहा था। मैं जब उसके स्तनों को देखता तो मुझे बड़ा मजा आ रहा था और मैंने अब उसकी जांघ पर हाथ रख दिया। जैसे ही मैंने उसकी जांघ पर हाथ रखा तो वह पूरे मूड में आ चुकी थी और अब मैंने उसके स्तनों को दबाना शुरू कर दिया। जब मैं उसके स्तनों को दबा रहा था तो उसे बड़ा ही आनंद आ रहा था। मैंने उसे वही बिस्तर पर लेटा दिया और जब मैंने उसे बिस्तर पर लेटाया तो वह पूरे मूड में आ चुकी थी। अब मैंने उसके सारे कपड़े उतार दिए और जब उसका बदन मैंने देखा तो मुझे बड़ा ही अच्छा लग रहा था। मैं उसके स्तनों को दबाते हुए अपने मुंह में ले रहा था। राधिका को मजा आने लगा और मैंने उसकी चूत के अंदर अपने लंड को डाल दिया।

जैसे ही मैंने उसकी नरम और मुलायम चूत के अंदर अपने लंड को डाला तो वह चिल्ला उठी और उसकी योनि से खून निकलने लगा। उसकी चूत से बहुत तेजी से खून निकल रहा था मुझे बड़ा ही मजा आ रहा था जब मैं उसे धक्के मार रहा था। वह भी मेरा पूरा साथ दे रही थी और उसे बड़ा ही आनंद आता जब वह मेरे लंड को अपनी योनि के अंदर ले रही थी। अब उसकी उत्तेजना चरम सीमा पर पहुंच गई मुझे बहुत ही अच्छा लगने लगा। मैं उसे बड़ी तेजी से धक्के दे रहा था मैंने उसे उठाकर अपने लंड के ऊपर बैठा दिया। मेरा लंड उसकी योनि में जा चुका था और वह बड़ी तेजी से चिल्ला रही थी। उसकी चूत  से खून की बूंदे मेरे लंड पर टपक रही थी। मैं उसे बड़ी ही तीव्र गति से झटके दिया जाता। मैंने उसे इतनी तेज झटके  मारने शुरू किए कि उसका पूरा शरीर हिल रहा था और उसे बड़ा मजा आ रहा था। मैंने उसके स्तनों को अपने मुंह में लेकर अच्छे से चूसना शुरू कर दिया और जब मैं उसके स्तन अपने मुंह में लेकर चूस रहा था तो उसकी उत्तेजना दोगुनी हो जाती। वह भी अपने चूतड़ों को ऊपर नीचे करती जाती मुझे भी बड़ा मजा आ रहा था जब वह अपने चूतडो को ऊपर नीचे करने लगी। अब वह बहुत तेजी से अपने चूतडो को हिलाती जा रही थी और मैं उसे बड़ी ही तेजी से धक्के मार रहा था। मैंने उसे इतनी तेज तेज चोदना शुरु किया कि उसका पूरा शरीर हिलने लगा और उसके शरीर से आग निकलने लगी। वह मुझे कहने लगी कि उसे बिल्कुल भी बर्दाश्त नहीं हो रहा है जब आप मुझे इस प्रकार से चद रहे हो। मैंने उसे बड़ी तेजी से चद रहा था उसकी चूत से पानी निकलने लगा और कुछ देर बाद वह झडने लगी। लेकिन मैं उसकी टाइम चूत को ज्यादा देर तक बर्दाश्त नहीं कर पाया और 10 मिनट बाद ही मेरा वीर्य पतन हो गया। जब मेरा वीर्य उसकी योनि के अंदर गया तो वह बहुत ही खुशी थी। वह मेरे लंड को अपने मुंह में लेकर चूस रही थी उसे बहुत मजा आ रहा था जब वह मेरे लंड को अपने मुंह के अंदर ले रही थी। उसके बाद मेरा माल उसके मुंह के अंदर ही गिर गया।


error:

Online porn video at mobile phone


maa ki sexy storyek ladke ki gand maribachpan me chudaisex with bhabhi pornchudai kii kahanihot aunty kathaantarvasna websitebehan ki bhai se chudaixx chudaihindi aunty sexy storiesbhai se chudaichudai story pdfaunty ki chudai ki storieschuchi ka doodhsex story marathi fonthindi bhabhi comsexy nangi ladkifree download hindi adult comicsbehan ki jawaniwife exchange storyincest sex stories in hindichut me ganddesi behan ki chudaibhabhi ki chudai ki kahaanimast sex storyhindi sexy story hindi sexy storysexy boobs storygujarati aunty sexporn stories in hindi languagebhai behan ki hindi kahanidesi didi sexhindi erotic comicsindian sex stori comnind me maa ko chodahindi sax mmsmom ki malishchodae ki kahanisexy hindi stories latestsexy story hinde mhindi hot fukingnangi bhabhi ki chudai ki kahanistory choothindi kamuktabhabhi story with photopolice wali ko chodabf chudai hindibhabhi ki chodaisex in train in indiamaa beta chudai kahanihot chudai ki kahani hindiholi me chachi ki chudaibeti ki chudai ka videorat me chudaibehan aur bhabhi ko chodasexy kahani bhai behanhindi chudai picturepooja sxechudai specialsexy baateintantrik ne mujhe chodasex village hindibahan ko kaise choduhot sexy hindi sex storysughratwww sali ki chudai comapni saali ko chodafree hindisex storiesxxx hindi sexy storysexy bhabhi ki chudaiantarvasna bhabhi ko chodagroup chudai storydesi kudi ki chudaihinde six storehindi kahani bhai behan ki chudainangi moti auntyjiji ki chutsali ki fuckingbehan ki chudai ki hindi storyaunty ki jawanikahani chudai hindi mebaap beti chudai